निराश्रित गोवंश आश्रय योजना किसानो को 900 रु/ माह आर्थिक सहायता

Yogi Nirashrit Govansh Aashray Yojana 2021 Awara govansh Pension Scheme 900 rs/ month निराश्रित गोवंश देखभाल योजना छुट्टा गोवंश आश्रय योजना Nirashrit Govansh Yojana

नवीनतम जानकारी :  दोस्तो मुख्मयंत्री योगी आदित्यनाथ ने निराश्रित गोवंश को लेकर एक योजना का ऐलान किया है। योगी सरकार आवारा गायों को आश्रय देने और उनकी देखभाल के लिए किसानों को 900 रुपए प्रति माह देने जा रही है। निराश्रित गोवंश आश्रय योजना के लागू होने से किसान अपने जानवरो को खुला छोड़ने से परहेज करेंगे। जिससे छुट्टा जानवरों की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। इस योजना की आधिकारिक घोषणा अनुपूरक बजट में की जा सकती है।

Nirashrit Govansh Aashray Yojana | निराश्रित गोवंश आश्रय योजना

दोस्तो. पूर्वांचल व बुंदेलखंड विकास बोर्ड की बैठक के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा की सरकार निराश्रित गायों की देखभाल करने वाले किसानों के खाते में सीधे 30 रु प्रतिदिन के अनुसार से राशि भेजेगी। मतलब की 900 रु हर महीने किसानों के खाते में भेजी जाएगी। उम्मीद है की सरकार इस योजना Nirashrit Govansh Aashray Yojana को एक साथ पूरे प्रदेश में लागू कर सकती है। माना जा रहा है कि सरकार की इस योजना के बाद किसान निराश्रित गौवंश का छोड़ने से परहेज करेंगे। इससे प्रदेश के किसानों को

निराश्रित गोवंश आश्रय की महत्वपूर्ण बाते 

  • Nirashrit Govansh Yojana मे किसानों को 30 रु प्रति दिन के हिसाब से राशि मिलेगी।
  • यह राशि 900 रु एक मुश्त महीने के अंत मे किसानो के खाते में सीधे भेजी जाएगी।
  • सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना से छुट्टा जानवरों वाली समस्या खत्म होगी।
  • प्रदेश सरकार ने गौवंश के लिए अब तक 631.60 करोड़ रु की आर्थिक सहायता दी है। जो अन्य राज्यो के मुक़ाबले सबसे ज्यादा है।

ऐसे कयास लगाए जा रहे है की इस नई योजना को  बुंदेलखंड से शुरू किया जा सकता है। जहां आवारा पशुओं की समस्या विकराल रूप के चुकी है. छुट्टा जानवर होने की बजह से पूरे राज्य मे किसानों की फ़सल को नुकसान होता है। और ये सड़कों पर हादसे का कारण भी बनते है।

गौरतलब है कि जब कोई गाय दूध देना बंद कर देती है तो उसे किसान छोड़ देते है। और यही बूढ़े बैलो के साथ किया जाता है। इसलिए वे पशु इधर उधर घूमते है। और किसानो कि फसल को खा जाते है। सार्वजनिक स्थानो पर या सड्को पर वाहनो के सामने आ जाते है। अब देखना ये होगा कि यह योजना इस समस्या को कितना रोक पाती है। निराश्रित गोवंश आश्रय योजना के लिए गोशालाओं के निर्माण में तेजी लायी जा रही है।

निराश्रित गोवंश आश्रय की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें। :- जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन 2021 उत्तर प्रदेश [SC/ST/OBC] जाति प्रमाण पत्र फॉर्म

दोस्तो. आपको यह जानकारी  Nirashrit Govansh Aashray Yojana कैसी लगी हमे जरूर बताए।  आप इस योजना के बारे मे अपने विचार नीचे कमेन्ट बॉक्स मे लिख सकते है।

1 thought on “निराश्रित गोवंश आश्रय योजना किसानो को 900 रु/ माह आर्थिक सहायता”

  1. bahut he acchi yojna hai but agar iska sahi upyog kiya jay to .jo kisaan ghar se janwaro ko khula chod dete hai usse rahatminegi aur kisano ko isse kaaphi laabh hoga aur unki fasal bhi save rahe gi .mai is youjna se sahmat hu ,.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Alert: Content is protected !!